कांग्रेस का रामगढ़ अधिवेशन

  • कांग्रेस का 53वां अधिवेशन 1920 मार्च, 1940 को हजारीबाग जिला के रामगढ़ में मौलाना अबुल कलाम आजाद की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ
  • 14 मार्च, 1940 को गांधीजी ने रामगढ़ में खादी ग्राम उद्योग का उद्घाटन किया
  • कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक रामगढ़ में 1518 मार्च, 1910 को हुई।
  • कांग्रेस विषय निर्वाचनी समिति की बैठक 17, 18 और 19 मार्च को हुई। बैठक के प्रथम दिन डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने भारत और विश्व संकट पर मुख्य प्रस्ताव प्रस्तुत किया, जिसका अनुमोदन पंडित जवाहर लाल नेहरू द्वारा किया गया।
  • इस अधिावेशन में कांग्रेस ने एकमात्र प्रस्ताव पारित किया, यह प्रस्ताव सत्याग्रह पर था। प्रस्ताव का अनुमोदन आचार्य जे.बी. कृपलानी ने किया।
  • रामगढ़ अधिवेशन के दौरान सुभाष चन्द्र बोस की अध्यक्षता में अखिल भारतीय समझौता विरोधी सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन की स्वागतकारिणी के अध्यक्ष सहजानन्द सरस्वती थे।
  • यहीं फारवर्ड ब्लॉक का जन्म हुआ।
  • एम.एन. राय ने रेडिकल डेमोक्रेटिक पार्टी की नींव यहीं डाली।
  • रामगढ़ कांग्रेस के मुख्य प्रवेश द्वार का नामकरण बिरसा मुंडा के नाम पर किया गया था। सभास्थल का नाम मजहर नगर रखा गया था।

Previous Page:सविनय अवज्ञा आन्दोलन और झारखण्ड

Next Page :भारत छोड़ो आन्दोलनऔर झारखण्ड